आरबीआई ने रेपो रेट में 25 आधार अंको की कटौती की

नई दिल्ली 4 अक्टूबर। भारतीय रिजर्व बैंक में शुक्रवार को अपना प्रमुख नीतिगत दर में लगातार पांचवीं बार कमी की है । आरबीआई ने दर मौद्रिक नीति समिति की समीक्षा बैठक में रेपो दर 25 आधार अंक घटाकर 5.15% कर दिया है, जिससे इस साल रेपो दर में कुल कटौती 135 आधार अंक पर पहुंच गई है।

पहले यह दर 5.40% थी। 9 सालों में पहली बार रेपो रेट इतना कम हुआ है । रिवर्स रेपो रेट 4.90 कर दिया गया है।

छह सदस्यीय एमपीसी की बैठक गवर्नर शक्तिकांत दास की अगुवाई में हुई। केंद्रीय बैंक खुदरा महंगाई को ध्यान में रखते हुए प्रमुख नीतिगत दरों पर फैसला लेता है। हालांकि ज्यादातर विशेषज्ञ दिसंबर में होने वाली समीक्षा में 15 आधार अंक की एक और कटौती की उम्मीद कर रहे हैं।
आपको ऐसे होगा फायदा
अगर रेपो रेट में कटौती का फायदा बैंक आप तक पहुंचाते हैं तो का आम लोगों को काफी फायदा होगा। ऐसा इसलिए क्योंकि अब बैंकों पर ब्याज दरों में कटौती करने का दबाव रहेगा। इससे लोगों को लोन सस्ते में मिल जाएगा। इसके अलावा जो होम, ऑटो या अन्य प्रकार के लोन फ्लोटिंग रेट पर लिए गए हैं, उनकी ईएमआई में भी कमी हो जाएगी।

You may also like...