सिद्दारमैया के मुख्यमंत्री बनने से सुलझ जाएगा कर्नाटक का राजनीतिक संकट?

बेंगलुरु 22 जुलाई । कर्नाटक के राजनीतिक घटनाक्रम में आए नाटकीय मोड़ के बाद लग रहा है कि कांग्रेस और जेडीएस सरकार बचाने की कोशिश में त्याग का हथियार क्यों कर सकते हैं । यानी सिद्धारमैया को मुख्यमंत्री बना कर बागी विधायकों को अपने पाले में किया जा सकता है । इस तरह आज होने वाले फ्लोर टेस्ट की भी तस्वीर बदल जाएगी।

डीके शिवकुमार के मुताबिक, उन्होंने (JDS) ने इसके बारे में हमारे हाईकमान को भी बता दिया है। विश्वास मत पर वोटिंग से पहले डीके शिवकुमार का ये बयान क्या सरकार को बचा पाएगा, इसपर हर किसी की नज़र है।

आपको बता दें कि 2018 में जब कर्नाटक में चुनाव हुए तो कांग्रेस
बहुमत से दूर रहे गई थी, लेकिन बीजेपी को सत्ता से दूर करने के लिए कांग्रेसी जीडीएस का गठबंधन हुआ और कुमार स्वामी मुख्यमंत्री बने।

कांग्रेस से आधे विधायक होने के बाद भी मुख्यमंत्री जेडीएस का बना लेकिन कांग्रेस के कुछ मुख्यमंत्रियों को ये रास नहीं आया. बीते एक साल में कई बार ये मांग उठी कि हमारे असली मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ही हैं. लेकिन एचडी कुमारस्वामी और कांग्रेस नेतृत्व की तरफ से हर बार इस मांग को नकारा गया.

You may also like...