तो सरकार ने भी माना कि अभी लोगों के हाथ में पैसा की कमी! इस तरह से ज्यादा पैसा देगी सरकार

नई दिल्ली 8 जुलाई । बीते दिनों आम बजट पेश करने के बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज तक इंडिया टुडे के कार्यक्रम में कहा कि सरकार की कोशिश लोगों के हाथ में पैसा देने की है , ताकि उनके खर्च की सीमा बढ़ सके । निर्मला सीतारमण के बयान से माना जा रहा है कि अभी जो लोग दिक्कतों में है , उसे सरकार भी समझ रही हैं। यानी आम आदमी के पास तंगी के हालात हैं!

इंडिया टुडे के राउंड टेबल कार्यक्रम में बोलते हुए निर्मला सीतारमण ने कहा कि अर्थव्यवस्था में उपयोग को हर हालत में बढ़ाना होगा। हम जो कह रहे हैं उसमें यह तत्व अंतर्निहित है । इस उपयोग को बढ़ाने का सबसे बढ़िया तरीका यह है कि लोगों के हाथ में पैसा दिया जाए, जिससे वह ज्यादा से ज्यादा खर्च कर सकें।

वित्त मंत्री ओबराय होटल में बजट पर चल रहे एक परिचर्चा में भाग लेने के लिए पहुचीं थीं। कार्यक्रम का संचालन इंडिया टुडे के न्यूज डायरेक्टर राहुल कवल ने किया । कार्यक्रम के दौरान जब वित्त मंत्री से पूछा गया कि सरकार अर्थव्यवस्था में उपयोग को कैसे बढ़ावा देगी, तो निर्मला सीतारमण ने सरकार के उपायों की जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि एक तो वही पुराना और सबसे गोल्डन तरीका है कि हम इंफ्रास्ट्रक्चर पर खर्च करें . दूसरा यह कि हम ग्रामीण इलाकों की ओर ज्यादा से ज्यादा फोकस करें और नई तकनीक को अपनाएं.

वित्त मंत्री ने कहा कि अगर लोगों के हाथ में भेजा गया कुछ भी बेकार नहीं जाता है. उन्होंने कहा, “जनता के हाथ में दिया गया कुछ भी बेकार नहीं जाता है, यदि सही वक्त पर सही पैसा लोगों तक पहुंचता है तो निश्चित रूप से उपभोग बढ़ेगा.

You may also like...