वित्त मंत्री का ऐलान- बैंकिंग परीक्षाएं हिंदी व अंग्रेजी के साथ स्थानीय भाषाओं में भी होगी, रिपोर्ट-नैना

नई दिल्ली 4 जुलाई। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने ऐलान किया है कि अब से बैंकिंग परीक्षा का आयोजन स्थानीय भाषा में भी होगा उन्होंने लोकसभा में कहा था कि दक्षिण भारत राज्यों के सांसदों ने मांग रखी थी कि बैंक भर्ती में परीक्षा स्थानीय भाषा में भी कराई जाए उनकी मांग को मान लिया गया है । बैंकिंग परीक्षा स्थानीय भाषा में होने से बैंक की तैयारी करने वाले युवाओं के लिए यह सुनहरा मौका होगा।

गुरुवार को राज्यसभा में शून्यकाल के दौरान कांग्रेस के सांसद जी सी चंद्रशेखर ने यह मुद्दा उठाया था। उन्होंने कन्नड़ भाषा में बोलते हुए कहा भारतीय बैंकिंग सेवा परीक्षा और अन्य भर्ती परीक्षाएं स्थानीय उम्मीदवारों की सुविधा के लिए अंग्रेजी और हिंदी के साथ साथ स्थानीय भाषा में आयोजित की जानी चाहिए। इससे स्थानीय भाषा में परीक्षा देने वाले उम्मीदवारों को आसानी हो।

चंद्रशेखर की चिंताओं पर बोलते हुए निर्मला सीतारमण ने कहा कि लोकसभा के सांसदों में भी इस मुद्दे पर बैठक की थी । उन्होंने आश्वासन दिया था कि इस मामले में वे कोई ना कोई कदम उठाएंगे आज उन्होंने ऐलान किया कि अब 13 स्थानीय भाषाओं में बैंकिंग परीक्षा का आयोजन किया जाएगा।

You may also like...