कभी मुकेश को जेल भेजना चाहते थे अनिल अंबानी, मुकेश ने ही अनिल को जेल जाने से ऐसे बचाया, रिपोर्ट-जीतेन्द्र

मुंबई 20 मार्च। 10 साल पहले अपने बड़े भाई मुकेश अंबानी को अनिल अंबानी जेल भिजवा ना चाहते थे 10 साल बाद आज उसी बड़े भाई ने अनिल को जेल जाने से बचा लिया।

आपको बता दें कि 10 साल पहले अनिल अंबानी ने अपने भाई मुकेश अंबानी पर 10000 करोड़ों की मानहानि का मुकदमा दर्ज कराया था मुकेश अंबानी ने न्यूयॉर्क टाइम्स को इंटरव्यू दिया था, जिसमें उन्होंने अनिल अंबानी पर अलग होने से पहले अपने खिलाफ लॉबीस्ट और जासूस की टीम लगाने का आरोप लगाया था। इंटरव्यू के बाद अनिल अंबानी ने मानहानि का मुकदमा दर्ज कराया था।

आज 10 साल बाद दोनों भाइयों के बीच की दुश्मनी लगभग समाप्त हो गई है । अनिल अंबानी के भी तेवर बदल गए हैं । उनका अलग बयान आया है । इसमें उन्होंने कहा मेरे आदरणीय भैया और भाभी को दिल से शुक्रिया और आभार । मुश्किल घड़ी में मेरे साथ आप खड़े रहे।

आपको बता दें कि मुकेश अंबानी ने अपने भाई अनिल अंबानी की देनदारी को चुकता कर उन्हें जेल जाने से बचाया है। पिता की मृत्यु के बाद दोनों भाइयों के रिश्ते में आई कड़वाहट के बाद धीरूभाई अंबानी का कारोबार साम्राज्य रिलायंस दो हिस्सों में बट गया था।

स्वीडन की कंपनी आरक्षण की 7.7 करोड़ डालर के देनदारी को अनिल अंबानी को 20 मार्च तक चुकता करना था । सुप्रीम कोर्ट ने साफ कहा था कि अगर वह समय सीमा के भीतर रकम नहीं देंगे तो उन्हें 3 महीने की जेल होगी।

सुप्रीम कोर्ट की ओर से तय की गई समय सीमा से 2 दिन पहले एरिकसन ने कहा कि उनकी देनदारी आरकाम में ब्याज के साथ वापस कर दी है। इसके बाद यह कयास लगने लगे कि आख़िर आरकॉम ने यह कैसी कहां से दी।

देर रात इस बात का भी जवाब मिल गया । जब अनिल अंबानी खुद ही सामने आए और उन्होंने कहा कि अतीत की कड़वाहट भूलने के लिए अपने भाई के हृदय से आभारी हैं।

You may also like...