शराब को और तेज करने के लिए चूहा मारने वाली दवाई मिलाई गई थी!

लखनऊ 9 फरवरी। उत्तर प्रदेश उत्तराखंड में अवैध शराब के कारण 70 लोगों की मौत हो चुकी है। जहरीली शराब कांड में सबसे हैरानी वाली बात यह सामने आ रही है कि शराब में चूहों को मारने वाली दवा मिलाए जाने के संकेत मिले हैं।

नॉमिनल से उत्तराखंड के हरिद्वार में 13 लोगों की जानें गई, तो वहीं यूपी के सहारनपुर में 40 और कुशीनगर में 11 लोगों की मौत हुई है। इतनी बड़ी संख्या में मौत होने के बाद जहां शासन हैरान है तो पुलिस प्रशासन और आपकारी विभाग में हड़कंप मचा हुआ है।

कुछ मामलों में सहारनपुर के जिला अधिकारी का कहना है कि शराब को जांच के लिए लखनऊ में भेजा गया है। 460 लीटर अवैध शराब जप्त की गई है ।

ऐसे संकेत मिल रहे हैं कि शराब को और तेज बनाने के लिए रेड प्वाइजन का भी इस्तेमाल किया जाता था।

जिलाधिकारी ने बताया कि सहारनपुर के कुछ लोग मेरठ के अस्पताल में भर्ती हैं इस मामले में तीन थानों में एफ आई आर दर्ज की गई है। 30 से अधिक लोगों को गुस्सा किया गया है और कुछ लोगों पर एनएसए लगाने की भी तैयारी है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुलिस अधिकारियों से कहा है कि अवैध शराब के धंधे करने वालों पर गैंगस्टर एक्ट लगाया जाए। इसके साथ ही उन लोगों की संपत्ति भी जबकि जाए। आपको बता दें कि सन 2018 में अवैध शराब के 54000 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं।

मामले में शासन में सहारनपुर और कुशीनगर में करीब 21 अधिकारियों को निलंबित किया है।

You may also like...