झांसी के जिला पूर्ति अधिकारी डीएम के फर्जी हस्ताक्षर करने के आरोप में गिरफ्तार, रिपोर्ट- देवेंद्र, सत्येंद्र, एवं रोहित

झाँसी। झांसी के जिला पूर्ति अधिकारी को पुलिस ने जिलाधिकारी के फर्जी हस्ताक्षर करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है । उनके साथ तीन अन्य लोगों को भी कार्रवाई की दायरे में लिया गया है

झांसी जिले के सीपरी बाजार थानान्तर्गत करारी में मेसर्स सिंह कैरियर फिलिंग स्टेशन नाम से पेट्रोल पम्प है। जिसमें राजेन्द्र सिंह चावला की पाटनरी है। झांसी जिलाधिकारी शिव सहाय अवस्थी द्वारा की गई शिकायत के अनुसार उक्त पेट्रोल पम्प के लाइसेंस को नवीनीकरण के लिए बैंक चालान शुल्क के प्रार्थना को राजेन्द्र सिंह चावला ने दिया था। कमी होने के कारण उक्त प्रार्थना को निरस्त कर दिया गया था। साथ ही कुछ बिंदुओ पर मेसर्स सिंह कैरियर रिटेल आउट लेट से आख्या मांगी गई थी।

उक्त मेसर्स सिंह कैरियर रिटेल आउट लेट द्वारा अख्या प्रस्तुत कर लाइसेस के नवीनीकरण के लिए अनुरोध किया गया था।

जिसमें जिला पूर्ति कार्यालय से उक्त फर्म के मालिक से फर्म के संचालन के लिए 15 फरवरी 2018 को शपथ पत्र प्रस्तुत करने के निर्देश दिये गये थे। फर्म के पार्टन राजेन्द्र सिंह चावला ने 16 फरवरी 2018 को फर्म के संचालन की जिम्मेदारी सम्बंधी शपथ पत्र प्रस्तुत किया था। उक्त फर्म में उन्होंने अपनी 40 प्रतिशत की हिस्सेदारी दर्शाई थी। शपथ पत्र के आधार पर उक्त फर्म का नवीनीकरण लाईसेंस करने की संस्तुति जिला पूर्ति कार्यालय झांसी से की गई। जिसमें जिला पूर्ति अधिकारी अनूप तिवारी, लिपिक अमित श्रीवास्तव पेट्रोलियम अनुभाग क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी, मनोज कुमार ने अपने-अपने हस्ताक्षर के साथ-साथ जिलाधिकारी झांसी के भी फर्जी हस्ताक्षर कर राजेन्द्र सिंह के पक्ष में लाइसेंस का नवीनीकरण कर दिया। झांसी जिलाधिकारी शिव सहाय अवस्थी की शिकायत के आधार पर जिला पूर्ति अधिकारी, बाबू और राजेन्द्र सिंह चावला समेत चार के खिलाफ धारा 419, 420, 467, 468 व 471 के तहत मामला कर लिया। इसके बाद जिलाधिकारी ने अपने आवास से जिला पूर्ति अधिकारी अनूप तिवारी समेत लिपिक को गिरफ्तार कराया है।

You may also like...