उरई: घर में सो रहीं मां बेटी संदिग्ध परिस्थितियों में जलीं, बेटी की मौके पर ही मौत,रिपोर्ट-अवनीत गुर्जर

उरई। गोविंद स्वीट हाउस के पीछे रानीबाग मोहल्ले में आधी रात के बाद घर में सो रही मां, बेटी संदिग्ध परिस्थितियों में जल गई । इस दौरान बेटी की मौके पर ही मौत हो गई जबकि मां की भी हालत नाजुक है । दोनों को बचाने आए बेटे , बहू भी इसमें झुलस गए हैं । सनसनीखेज घटना की वजह पता नहीं चल पा रही है । पुलिस छानबीन में जुटी है ।

सोमवार को रात लगभग 2 बजे रानीबाग मोहल्ले में सहकारी कर्मचारी मनीष गुप्ता के घर में चीख पुकार से हड़कंप मच गया । आवाजें बगल के कमरे में सो रहीं मनीष की मां मांडवी देवी (70 वर्ष) और बहिन संगीता ( 45 वर्ष ) की थीं । मनीषा और उनकी पत्नी दौड़ कर उस कमरे में पहुंचे तो आग की लपटों में घिरी मां और बहिन को देख कर उनके रोंगटे खड़े हो गए । हड़बड़ाहट में पति पत्नी हाथों से ही आग बुझाने लगे जिससे वे भी झुलस गए ।

आनन फानन वे दोनों को अस्पताल ले गए जहाँ संगीता को मृत घोषित कर दिया गया जबकि मांडवी देवी की भी हालत नाजुक होने से डाक्टरों ने उन्हे रेफर कर दिया ।

घटना को ले कर अभी तक केवल यह पता चला है कि संगीता का अपने पति से लंबे समय से मुक़दमा चल रहा था जिसके कारण तनाव में वह विक्षिप्त जैसा व्यवहार करती थी । पुलिस के उच्चाधिकारी मौके पर जाँच के लिए पहुंचे । पुलिस उपाधीक्षक संतोष कुमार ने बताया कि वास्तविक कारण का पता लगाने के लिए गहराई से जाँच की जा रही है ।

You may also like...