टहरौली-झूठे मुकदमे में पत्रकार को फसाने के विरोध में ग्रामीणों का फूटा गुस्सा

क्षेत्राधिकारी टहरौली कार्यालय में ग्राम खजराहा के ग्रामीणों ने दिया धरना और दिये शपथ पत्र

टहरौली (झाँसी) – आज टहरौली क्षेत्राधिकारी कार्यालय में सैकड़ों ग्रामीणों ने धरना दिया । ग्रामीणों द्वारा एक फर्जी मुकदमे के विरोध में अपने शपथ पत्र प्रस्तुत किये गये ।
ताजा मामला थानाक्षेत्र उल्दन के ग्राम खजराहा का है । आज ग्राम खजराहा और क्षेत्र के आये हुये सैकड़ों ग्रामीणों ने क्षेत्राधिकारी टहरौली कार्यालय में धरना दिया । क्षेत्राधिकारी टहरौली द्वारा सभी ग्रामीणों के बयान दर्ज करवाये गये ।
ग्रामीणों द्वारा बताया गया कि कुछ माह पहले खजराहा निवासी हरनारायण मिश्रा की एक सड़क दुर्घटना में मृत्यु हो गयी थी । दुर्घटना के बाद मृतक हरनारायण मिश्रा के पुत्र रीतेश मिश्रा “राघवेन्द्र” द्वारा अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ थाना उल्दन में मुकदमा दर्ज करवाया गया था । जिनके बाद से ही उक्त सड़क दुर्घटना के आरोपी द्वारा रीतेश मिश्रा “राघवेन्द्र” एवं उनके परिवारजनों के ऊपर राजीनामा का दवाब बनाने के लिये झूठे हरिजन एक्ट में फसाने की धमकियां दी जा रहीं थी ।
क्षेत्राधिकारी टहरौली कार्यालय आये ग्रामीणों द्वारा बताया गया कि सड़क दुर्घटना में उल्दन पुलिस द्वारा ग्राम खजराहा निवासी मलखान अहिरवार पुत्र जयराम अहिरवार के ऊपर आरोप पत्र न्यायालय में दाखिल किया गया है ।
सड़क दुर्घटना के आरोप द्वारा पहले तो वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय झाँसी को एक प्रार्थना पत्र दिया गया जिसमें बताया गया कि रीतेश मिश्रा और उनके परिजनों द्वारा मलखान अहिरवार की माँ के साथ मार पीट एक छेड़खानी गयी है । उक्त प्रार्थना पत्र की जाँच हेतु वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा क्षेत्राधिकारी टहरौली को पत्र लिखा गया । जिसके बाद क्षेत्राधिकारी टहरौली द्वारा इस मामले की जाँच उल्दन पुलिस द्वारा करवायी गयी । उल्दन पुलिस द्वारा जाँच आख्या प्रस्तुत करके बताया गया कि यह मनगढ़ंत आरोप सड़क दुर्घटना में हुयी रीतेश मिश्रा के पिता हरनारायण मिश्रा की मृत्यु के मुकदमे में राजीनामा करवाने के उद्देश्य से लगाये जा रहे हैं । उल्दन पुलिस द्वारा बताया गया कि इस तरह की कोई घटना ग्राम में घटित ही नहीं हुई है ।
जिसके बाद बौखलाये मलखान अहिरवार ने अपने सगे भाई की पुत्री द्वारा न्यायालय की आदेश पर थाना उल्दन में रीतेश मिश्रा , उनके चाचा और मामा पर घर मे घुस का मारपीट , हरिजन एक्ट , छेड़खानी , पास्को एक्ट आदि के तहत एक मामला दर्ज करवाया गया । ग्रामीणों द्वारा बताया गया कि इस तरह की कोई भी घटना गाँव मे घटित ही नहीं हुयी है । ग्रामीणों एवं क्षेत्रवासियों द्वारा उक्त झूठे मुकदमे के विरोध में अपने बयान दर्ज करवाये गये एवं अपने शपथ पत्र प्रस्तुत किये गये । लोगों द्वारा मांग की गयी कि इस झूठे मुकदमे को अविलंब समाप्त किया जाये एवं किसी निर्दोष लोगों को फसाने के लिये दोषियों के खिलाफ विधिक कार्यवाही की जाये । वहीं क्षेत्राधिकारी टहरौली ठाकुर दीन पाल द्वारा ग्राम खजराहा और क्षेत्र से आये हुये सभी ग्रामीणों को पूर्ण रूप से निष्पक्ष जांच का आश्वासन दिया गया है ।
आज क्षेत्राधिकारी कार्यालय टहरौली में मुख्य रूप से संतोष शर्मा प्रधान खजराहा , श्रीप्रकाश त्रिपाठी , जगतपाल मिश्रा , अंकित मिश्रा , राजपति अहिरवार , प्रभुदयाल अहिरवार , गोमती , पार्वती , मिथला , ऊषा , सगुन , सन्तोषी , शीला देवी , मीरा , भगवती , अंकुश गुप्ता , प्रवीण उपाध्याय , रामकुंवर , लालाराम , किशोरी लाल , नरेश कुमार , जयराम यादव , धनीराम अहिरवार , सुजान राय आदि समेत सैकड़ों ग्रामीण एवं क्षेत्रवासी उपस्थित रहे ।

You may also like...