भोपाल- दो दिग्गज मिले, बोले- मिले सुर मेरा तुम्हारा! रिपोर्ट- संदीप

भोपाल 19 दिसंबर। कहा जाता है कि राजनीति में न कोई दोस्त होता है और ना कोई दुश्मन । राजनीति हालातों पर निर्भर होती है।। यह बात मध्यप्रदेश में राजनीतिक स्थिति को देखकर सच मानी जा सकती है । कल तक जिस दिग्विजय सिंह को शिवराज सिंह किनारे रखे रहे, आज उन्हीं दिग्विजय सिंह से मिलने खुद शिवराज उनके घर जा पहुंचे। इतना ही नहीं कमलनाथ में भी दिग्विजय सिंह को आनन-फानन में बंगला आवंटित कर दिया।

मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनते ही पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को फिर से सरकारी बंगला अलर्ट किया गया है। श्यामल हिल्स स्थित बंगला दिग्विजय सिंह ने कोर्ट के आदेश के बाद खाली किया था। अब उन्हें राज्यसभा सांसद होने के नाते यह सरकारी बंगला दिया गया है।

आपको बता दें कि जब शिवराज सिंह की सरकार थी तब कोर्ट के आदेश पर पूर्व मुख्यमंत्रियों के बंगले तो खाली करा लिए गए थे, लेकिन बाद में कुछ मुख्यमंत्रियों को बंगले आवंटित किए गए । परंतु दिग्विजय सिंह को फिर भी बंगला नहीं दिया गया उन्हें किनारे ही रखा गया था।

अब राज्य में सत्ता बदल गई है। हालात भी बदले नजर आ रहे हैं ।दोस्ताना संबंध राजनीति में शुभकामनाओं के रास्ते से मिलने का सहारा बन रहे हैं। बीते रोज शिवराज सिंह ने पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के घर जाकर मुलाकात की और गुलदस्ता भेंट किया।

राजनीतिक गलियारे में भले ही इसे शिष्टाचार का आवरण दिया जा रहा हो, लेकिन कयास की राजनीति में कई सवाल तैरना शुरू हो गए हैं। देखना यह दिलचस्प होगा कि वक्त इन सवालों को धरातल पर हल करता है या फिर हमेशा की तरह भविष्य के गर्त में छोड़ देगा।

You may also like...