राफेल डील- अमित शाह ने कहा- देश की जनता से माफी मांगे राहुल राहुल गांधी, रिपोर्ट-नैना

नई दिल्ली 14 दिसंबर. भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने आज मीडिया से बात करते हुए राफेल सौदे में सुप्रीम कोर्ट से मिली क्लीन चिट को लेकर खुशी जाहिर की। उन्होंने कांग्रेस से सवाल पूछा कि वह इस मामले में मिली जानकारी का स्रोत बताएं । शाह ने कहा कि चोर को ही चौकीदार से डर होता है।

उन्होंने कहा कि हम उच्चतम न्यायालय के फैसले का स्वागत करते हैं यह सत्य की जीत हुई है। उन्होंने कहा कि देश की आजादी के बाद से एक और झूठ के आधार पर जनता को गुमराह करने का इससे बड़ा प्रयास कभी नहीं हुआ। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि यह प्रयास देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस के अध्यक्ष द्वारा किया गया।

शाह में कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष ने अपने और पार्टी के थोड़े से फायदे के लिए झूठ का सहारा लेकर चलने की नई रणनीति की शुरुआत की है, लेकिन उच्चतम न्यायालय के फैसले ने सिद्ध कर दिया कि झूठ के पैर नहीं होते और अंत में जीत सच की होती है।

शाह ने कहा कि राफेल खरीद के संबंध में देश की जनता को गुमराह करने और सेना के बीच में संदेह पैदा करने के लिए राहुल गांधी को देश से माफी मांगनी चाहिए ।

विमान की खरीद की प्रक्रिया को रोकने की कोशिश करके राहुल गांधी ने देश की सुरक्षा को खतरे में डाला है । उन्होंने कहा कि मैं राहुल गांधी से पूछना चाहता हूं कि वह राफेल सौदे को लेकर अपनी जानकारी का स्रोत बताएं।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि आज यह बात सिद्ध हो गई कि जो चोर चोर वही चिल्लाते हैं जिनको चौकीदार का भय होता है। राहुल गांधी देश की जनता को अब यह जवाब दें कि वह किस आधार पर गुमराह कर रहे थे। उन्होंने सवाल उठाया कि कोर्ट में याचिका कर्ता क्यों नहीं बने राहुल गांधी? राहुल गांधी राफेल पर खुद सुप्रीम कोर्ट क्यों नहीं गए?

You may also like...