राहुल गांधी क्यों बोले- मोहन भागवत क्या भगवान हैं?

नई दिल्ली 22 सितंबर शनिवार को दिल्ली में शिक्षामित्रों के साथ बातचीत करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आरएसएस और मोदी सरकार पर जमकर निशाना। साधा राहुल गांधी ने कहा कि देश पर एक विचारधारा नहीं की जा सकती है।
उन्होंने कहा कि 1.3 अरब वाले इस देश में ऐसा लगता है कि एक विचारधारा तो पर जाने का प्रयास किया जा रहा है सरकार डरी हुई है और दबाव में काम कर रही है।
राहुल गांधी ने शिक्षकों की समस्याओं पर पूछे गए सवाल के जवाब दिए ।उन्होंने कहा कि शिक्षकों को ऐड वर्क पर रखा जा रहा है यह ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि शिक्षा व्यवस्था में बढ़ती लागत एक समस्या है यह स्वीकार नहीं है।
राहुल गांधी ने कहा कि बीते दिनों उन्होंने आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के बारे में सुना।
वह कहते हैं कि मैं देश को सुवस्थित करना चाहता हूं। राहुल ने कहा कि मैं जानना चाहता हूं कि वो कौन होते हैं क्या भगवान है?
राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस के घोषणापत्र में साफ होगा कि सरकार बनने के बाद शिक्षा पर कितना खर्च किया जाएगा उन्होंने कहा कि जब वह बाबा हमारे देश के इंजीनियरों की तारीफ करते हैं तो उनकी प्रतिभा की तारीफ करते हैं ढांचे कि नहीं।
राहुल गांधी ने कहा कि निजी संस्थानों को जगह होने चाहिए लेकिन सरकारी शिक्षा नीति ही आधार हो।

You may also like...